वो कौन थी ?

वो कौन थी ?
 

वो कौन थी ? 

जो दिलों के धड़कनों को बढ़ाती थी !

वो कौन थी ? 

जो बन चाँद रातों में मिलने आती थी !

वो कौन थी ?

जिसके सांसों की महक मधुशाला थी !

वो कौन थी ?

जिसके चेहरे की चमक एक ज्वाला थी !

वो कौन थी ?

जिसकी खूबसूरती बेमिशाल थी !

वो कौन थी ?

जिसकी नागिन जैसी चाल थी !

वो कौन थी ? 

जिसकी चाहत में ये दिल तड़पता था !

वो कौन थी ? 

मैं ख्यालों में जिससे हज़ार बातें करता था !

वो कौन थी ?

जिसके ख्वाब मेरे दिल में अधूरे रह गए !

वो कौन थी ?

जिसकी दास्ताँ मेरे बहते आंसू कह गए !

वो कौन थी ?

थी कोई लड़की या कोई जन्नत की हूर थी !

न जाने कौन थी वो ?

जो थी मेरी मोहब्बत, मेरे दिल का सुरूर थी !

न जाने कौन थी वो ?

जो थी मेरी जिंदगी, जो मेरा गुरूर थी !

----------------------------------------------

-------------

Post a Comment

0 Comments